16.1 C
New Delhi
Tuesday, February 27, 2024
होमदेश-विदेशजी-20 समिट: बाइक-कार वाले कहां से आएंगे-जाएंगे, पुलिस ने तैयार किया प्लान

जी-20 समिट: बाइक-कार वाले कहां से आएंगे-जाएंगे, पुलिस ने तैयार किया प्लान

नई दिल्ली।

भारत की राजधानी दिल्ली में इस सप्ताह से शुरू हो रहे दुनिया के सबसे बड़े ग्लोबल ईवेंट, जी-20 शिखर समिट के आयोजन के साथ ही पुलिस ने यातायात के लिए एक विस्तृत योजना तैयार की है। इस समिट में 29 विश्व के प्रमुख देशों के नेता और 14 अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रमुख एक साथ उपस्थित रहेंगे। इस अवसर पर 29 देशों के नेताओं को सहपरिवार विशेष प्राथमिकता दी गई है और यह पहली बार है जब किसी विशेष वीवीआईपी मूवमेंट के कारण पूरी दिल्ली में सार्वजनिक छुट्टी घोषित की गई है। 8 सितंबर से 10 सितंबर तक सभी स्कूल, कॉलेज और सरकारी कार्यालय बंद रहेंगे।

इस आयोजन की आधिकारिक शुरुआत से पहले दिल्ली ट्रैफिक पुलिस द्वारा एक अंतिम फुल ड्रेस रिहर्सल की जा रही है। इस फुल-ड्रेस रिहर्सल (काकरेड) का आयोजन शनिवार और रविवार को किया जाएगा, और इसके दौरान दिल्ली के कुछ क्षेत्रों में लॉकडाउन जैसी स्थितियां बनी रहेंगी। इस दौरान सुबह 8 बजे से लेकर दोपहर 1 बजे तक, विशेष रूप से नई दिल्ली और आसपास के यातायात पर प्रभाव रहेगा, लेकिन आम लोगों को सड़क के मार्ग की जानकारी देने और ट्रैफिक प्रबंधन को बेहतर बनाने के साथ-साथ कैसे आम लोगों को परेशानियों से बचाया जा सकता है, इसके लिए भी दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने कड़ी मेहनत की है। दिल्ली पुलिस अपनी वेबसाइट के साथ-साथ सोशल मीडिया के माध्यम से कई पोस्टर, रूट मैप्स और संबंधित सलाह देने वाली सूचनाएं जारी कर लोगों को अपने घर से निकलने से पहले निर्धारित मार्ग का पालन करने और मेट्रो, बस सेवा का उपयोग करने संबंधित जानकारी साझा कर रही है।

दिल्ली के ट्रैफिक से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

राजघाट से आईटीपीओ (अर्थात् प्रगति मैदान), राजघाट से आईटीपीओ तक, और नई दिल्ली क्षेत्र के एनडीएमसी क्षेत्रों में जाने से बचें। दिल्ली के गैर-गंतव्य वाहनों को ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे और अन्य वैकल्पिक मार्गों पर अनिवार्य रूप से मोड़ा जाएगा। इन वाहनों को दिल्ली में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी।

अगर आप शनिवार और रविवार को घर से निकलने की सोच रहे हैं, तो इन सड़कों से बचकर निकलें। इसमें भैरों रोड – रिंग रोड, गोलचक्कर ब्रिगेडियर होशियार सिंह मार्ग, गोलचक्कर यशवंत प्लेस, गोलचक्कर सत्य मार्ग/शांतिपथ, गोलचक्कर कौटिल्य, गोलचक्कर विंडसर प्लेस, जनपथ – कर्तव्यपथ, बाराखंभा रोड रेड लाइट, सरदार पटेल मार्ग-पंचशील मार्ग 11 मूर्ति, सरदार पटेल मार्ग-कौटिल्य मार्ग, गोलचक्कर तीन मूर्त, गोलचक्कर जीकेपी, गोलचक्कर गोल मेथी, गोलचक्कर एमएलएनपी, गोलचक्कर मानसिंह रोड, सी–हेक्सागन, मथुरा रोड, जाकिर हुसैन मार्ग – सुब्रमण्यम भारती मार्ग, टॉलस्टॉय मार्ग-जनपथ, गोलचक्कर क्लैरिज, विवेकानंद मार्ग, मोती बाग फ्लाईओवर के नीचे, लोधी फ्लाईओवर के नीचे, प्रेस एन्क्लेव रोड – लाल बहादुर शास्त्री मार्ग, चिराग दिल्ली फ्लाईओवर के नीचे, जोसेफ टीटो मार्ग – सिरी फोर्ट रोड, और शेरशाह रोड पर जाने से बचें।

अगर आपको शनिवार और रविवार को घर से निकलना है, तो आप इन रास्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं। उत्तर और दक्षिण की ओर जाने वाले इस रास्ते का इस्तेमाल कर सकते हैं: रिंग रोड – आश्रम चौक – सराय काले खां – महात्मा गांधी मार्ग – आईपी फ्लाईओवर – महात्मा गांधी मार्ग – आईएसबीटी कश्मीरी गेट – रिंग रोड – मजनू का टीला – एम्स चौक से रिंग रोड – धौला कुआं – रिंग रोड – बरार स्क्वायर – नारायणा फ्लाईओवर- राजौरी गार्डन जंक्शन – रिंग रोड – पंजाबी बाग जंक्शन – रिंग रोड – आजादपुर चौक का इस्तेमाल कर सकते हैं।

पुरानी और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन जाने वाले यात्री अपने प्राइवेट व्हीकल और टैक्सियों का उपयोग कर सकते हैं। इस दौरान उन्हें कुछ देरी हो सकती है। इसलिए दिल्ली पुलिस ने आवश्यकता के समय पर घर से निकलने की सलाह दी है। यात्री रेलवे स्टेशन जाने के लिए दिल्ली मेट्रो का उपयोग कर सकते हैं। एयरपोर्ट जाने वाले यात्री भी अपने प्राइवेट वाहनों और टैक्सियों का उपयोग कर सकते हैं, और उन्हें आईजीआई एयरपोर्ट जाने के लिए दिल्ली मेट्रो और एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन का उपयोग करने की सलाह दी गई है।

ईस्‍ट और वेस्‍ट द‍िल्‍ली वाले डीएनडी फ्लाईओवर – रिंग रोड – आश्रम चौक – मूलचंद अंडरपास – एम्स चौक – रिंग रोड – धौला कुआं – रिंग रोड – बरार स्क्वायर – नारायणा फ्लाईओवर तक. -युधिष्ठिर सेतु – रिंग रोड – चंदगी राम अखाड़ा – माल रोड – आजाद पुर चौक – रिंग रोड – लाला जगत नारायण मार्ग का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

भारी लोड वाहनों और माध्यम लोड वाहनों को दिल्ली में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी, हालांकि दूध, सब्जी, फल, और चिकित्सा आपूर्ति जैसी आवश्यक वस्तुएं वाहनों के साथ दिल्ली में प्रवेश की अनुमति होगी। अंतरराष्ट्रीय बसें भी दिल्ली में प्रवेश की अनुमति प्राप्त करेंगी, और इन बसों का समापन रिंग रोड पर होगा।

मालवाहक वाहनों और बसों को छोड़कर समान्य यातायात को रजोकरी सीमा से दिल्ली में प्रवेश की अनुमति होगी। इसके अलावा इस यातायात को अनिवार्य रूप से नेशनल हाईवे – 48 से राव तुला राम मार्ग, ओलोफ पाल्मे मार्ग पर परावर्तित किया जाएगा। नेशनल हाइवे -48 पर धौला कुंआ की ओर से किसी भी वाहन की आवाजाही की अनुमति नहीं होगी।

पहले से मौजूद बसें और रिंग रोड और रिंग रोड के पास दिल्ली की सीमा पर संचालित होगीं, और इन बसों को दिल्ली से बाहर निकलने की अनुमति होगी। नई दिल्ली जिले में प्रवेश करने वाले यातायात की आवाजाही को नियंत्रित किया जाएगा।

दिनांक सात सितंबर और आठ सितंबर की मध्यरात्रि को 12 बजे रात के बाद से 10 सितंबर तक सभी प्रकार के माल वाहन, कमर्श‍ियल वाहन, अंतराज्यीय बसें और स्थानीय सिटी बसें जैसे दिल्ली परिवहन निगम यानी डीटीसी बसें और दिल्ली इंटीग्रेटेड मल्टी मल्टी मॉडल ट्रांजिट सिस्टम (डीआईएमटीएस ) बसों को मथुरा रोड (आश्रम चौक से आगे ), भौरों रोड, पुराना किला रोड और प्रगति मैदान सुरंग के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments