28/11/2023

कोलकाता: भारत-बांग्लादेश सीमा पर, बीएसएफ ने एक बड़ी सोने की तस्करी को नाकाम करते हुए 1.27 करोड़ रुपए की 17 सोने के टुकड़ों के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया है। इस तस्कर ने बांग्लादेश से भारत लाने के लिए ट्रक के केबिन में सोने को छुपाने का प्रयास किया था। गिरफ्तार चालक का नाम अब्दुल जोहाब मलिक है, जो पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले का निवासी है।

बीएसएफ के उच्चाधिकारी ने इस कार्रवाई की तारीफ की है, उन्होंने कहा कि जवानों ने बहादुरी से सोने की तस्करी को नाकाम किया है। बीएसएफ के दक्षिण बंगाल सीमांत के जनसंपर्क अधिकारी, डीआईजी एके आर्य ने बताया कि इस सफलता के पीछे सेम की तीसरी कंपनी के तस्करों का हाथ है।

इस कार्रवाई में, बीएसएफ जवानों ने एक खाली ट्रक को रोका, जिसमें तस्कर सोने को छुपा रहा था। गहन तलाशी के दौरान, सोने के 17 टुकड़े बरामद किए गए, जिनमें से 8 बिस्कुट, 4 विकृत आकार के सोने के क्यूब और 5 अलग-अलग आकार की सोने की छोटी छड़ें शामिल थीं। सोना ड्राइवर की सीट के पीछे ऊपरी केबिन में पारदर्शी टेप में लपेटकर छुपाया गया था।

आर्य ने बताया कि चेकिंग के दौरान, चालक ने खुदाई की बहादुरी दिखाई और सोने की तस्करी में शामिल होने का खुलासा किया। चालक ने बताया कि उसे बांग्लादेशी नागरिक आशिक मंडल नामक व्यक्ति ने सोने को भारत में ले जाने के लिए उसको ट्रक में छुपाने का प्रस्ताव दिया था।

इस सफलता के बाद, आर्य ने बताया कि तस्करों का गिरोह गरीब और भोले-भाले लोगों को कम पैसों का लालच देकर अपने जाल में फंसाता है। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसे तस्करों का गिरोह सीधे तौर पर तस्करी जैसे अपराधों में शामिल नहीं होता, इसलिए वे गरीब लोगों को निशाना बनाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *