सुब्रतो कप: 62वें संस्करण में पहली बार भारत की सिलिकॉन वैली में सब-जूनियर लड़कों का खेला जाएगा टूर्नामेंट

0
166
सुब्रतो कप की ट्रॉफियां

1बेंगलुरू को भी मेजबान शहर के रूप में किया शामिल

नई दिल्ली।

सुब्रतो कप अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉल टूर्नामेंट का 62वां संस्करण 19 सितंबर से 23 अक्टूबर, 2023 तक आयोजित किया जाएगा। इस वर्ष दिल्ली और गुरुग्राम के अलावा बेंगलुरु को मेजबान शहर के रूप में जोड़ा गया है और इसी तरह सबसे पुराने राष्ट्रीय अंतर-स्कूल फुटबॉल टूर्नामेंट को पहली बार दक्षिण भारत में ले जाया जा रहा है। इस आशय की आधिकारिक घोषणा, एयर मार्शल आर.के. आनंद वीएसएम, एयर ऑफिसर-इन-चार्ज एडमिनिस्ट्रेशन और वाइस चेयरमैन, सुब्रतो मुखर्जी स्पोर्ट्स एजुकेशन सोसायटी (एसएमएसईएस) की उपस्थिति में, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के आकाश ऑफिसर मेस में एक प्रेस-कार्यक्रम में की गई। एयर मार्शल आर.के आनंद वीएसएम इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

एसएमएसईएस के तत्वावधान में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) द्वारा आयोजित सुब्रतो कप पहली बार 1960 में आयोजित किया गया था और इसका नाम एयर मार्शल सुब्रतो मुखर्जी के नाम पर रखा गया था, जिन्होंने जमीनी स्तर पर खेल को बढ़ावा देने के लिए इस विचार की कल्पना की थी। 62वें सुब्रतो कप का लाइव प्रसारण स्पोर्ट्सकास्ट इंडिया यूट्यूब चैनल पर किया जाएगा। प्रसार भारती और एआईएफएफ यूट्यूब चैनलों पर भी हाइलाइट्स देखी जा सकेंगी।

इस मौके पर सभा को संबोधित करते हुए एयर मार्शल आर.के. आनंद वीएसएम, एयर ऑफिसर-इन-चार्ज एडमिनिस्ट्रेशन और वाइस चेयरमैन एसएमएसईएस ने कहा, “62वां सुब्रतो कप वास्तव में ऐतिहासिक होगा क्योंकि यह पहली बार भारत के दक्षिण, बेंगलुरु में खेला जाएगा। इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट की पहुंच देश के अधिक से अधिक कोनों तक फैलाने की हमारी लंबे समय से इच्छा रही है और इस साल बेंगलुरु में मुख्य सब जूनियर बॉयज टूर्नामेंट की मेजबानी उसी दिशा में पहला कदम है। मैं टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई करने वाली सभी टीमों को बधाई देता हूं और उन्हें शुभकामनाएं देता हूं। वे खेल को खेल भावना की सच्ची भावना से खेलें।”

बता दें कि यह पहली बार होगा, राष्ट्रीय टूर्नामेंट राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के बाहर खेला जाएगा। जहां अंडर-17 जूनियर लड़कों और लड़कियों के टूर्नामेंट दिल्ली/एनसीआर में आयोजित किए जाएंगे, वहीं अंडर-14 सब-जूनियर लड़कों की प्रतियोगिता बेंगलुरु में आयोजित की जाएगी। प्रतिष्ठित अंबेडकर स्टेडियम के अलावा, तेजस फुटबॉल ग्राउंड (दिल्ली), सुब्रतो फुटबॉल ग्राउंड (दिल्ली) और जी.डी. गोयनका स्कूल (गुरुग्राम) मैदान दिल्ली/एनसीआर क्षेत्र में आयोजन स्थल होंगे। बेंगलुरु में मैच एएससी सेंटर एयर फोर्स स्कूल, जलाहल्ली और एयर फोर्स स्कूल, येहलंका में खेले जाएंगे।

देश के 27 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटी) से तीन टूर्नामेंटों में कुल 109 टीमें भाग लेंगी। बांग्लादेश और नेपाल की टीमें भी विदेशी भागीदारी लेकर आएंगी। कुल 180 से अधिक फुटबॉल मैच खेले जाएंगे। नागालैंड के दीमापुर का पिलग्रिम हायर सेकेंडरी स्कूल जूनियर बॉयज टूर्नामेंट का मौजूदा चैंपियन है, 61वां संस्करण जूनियर गर्ल्स श्रेणी में झारखंड के गुमला के सेंट पैट्रिक स्कूल ने जीता था। दूसरी ओर पिछले संस्करण की सब जूनियर बॉयज श्रेणी का खिताब मणिपुर में इंफाल के हेइरोक हायर सेकेंडरी स्कूल ने अपने नाम किया था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें