नई दिल्ली।

पेशाब करने के चक्कर में एक शख्स वंदे भारत एक्सप्रेस के वॉशरूम में बंद हो गया। और जब वह बाहर निकला तो भोपाल से उज्जैन पहुंच गया। उसकी पत्नी बच्चे भोपाल स्टेशन पर ही उसका इंतजार करते रह गए। वंदे भारत एक्सप्रेस में घटित हुई इस दंग कर देने वाली घटना की हकीकत जानकर आपके होश उड़ जाएंगे।

यहां बात हो रही है सिंगरौली के रहने वाले अब्दुल कादिर की। अब्दुल कादिर अपने परिवार के साथ भोपाल रेलवे स्टेशन पर सिंगरौली की ट्रेन पकड़ने गए थे। घटना 15 जुलाई की शाम 5 बजकर 20 मिनट की है। इसी वक्त कादिर भोपाल रेलवे स्टेशन पर पहुंचे थे। उन्हें 8 बजकर 55 मिनट पर सिंगरौली के लिए ट्रेन पकड़नी थी। अब्दुल कादिर प्लेटफॉर्म पर थे। तभी उन्हें पेशाब लगा और वे दूसरे प्लेटफॉर्म पर खड़ी वंदे भारत एक्सप्रेस में चढ़ गए। पेशाब करने के लिए उन्होंने ट्रेन के वाशरूम का इस्तेमाल किया। यहीं से उनकी बदकिस्मती शुरू हो गई। अब्दुल कादिर पेशाब करने के बाद वाशरूम से बाहर निकले तो ट्रेन चल पड़ी थी।

कादिर शाम 7:24 पर ट्रेन में चढ़े थे और वंदे भारत 7:25 पर इंदौर के लिए रवाना हो गई। कादिर ने घबराकर ट्रेन का गेट खोलना चाहा लेकिन गेट नहीं खुला। ट्रेन भोपाल स्टेशन से आगे बढ़ने लगी। कादिर ने टीटी और पुलिसकर्मियों से मदद मांगी, लेकिन उन्हें जवाब मिला कि ट्रेन का दरवाजा सिर्फ ड्राइवर ही खोल सकता है। इसके बाद टीटी ने कादिर का 1020 रुपये (जुर्माने के साथ) का टिकट बनाया। ट्रेन जब उज्जैन रेलवे स्टेशन पर रुकी तो कादिर भी वहां उतर गए. उसके बाद उन्होंने 750 रुपए खर्च कर भोपाल के लिए बस पकड़ी। जब वे फिर से भोपाल रेलवे स्टेशन पर पहुंचे तो उनकी पत्नी और बच्चा उनका इंतजार कर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *