होमस्वास्थ्यदिल्ली प्रदूषण: अगले हफ्ते से ऑड-ईवन, अभी कंस्ट्रक्शन पर रोक, 10 नवंबर...

दिल्ली प्रदूषण: अगले हफ्ते से ऑड-ईवन, अभी कंस्ट्रक्शन पर रोक, 10 नवंबर तक स्कूल बंद

दिल्ली की हवा सामान्य से 20 गुना ज्यादा है प्रदूषित

नई दिल्ली।

दिल्ली में प्रदूषण के चलते हवा जहरीली हो गई है। सोमवार को दिल्ली का ऐवरेज एयर क्वालिटी इंडेक्स यानी AQI 470 दर्ज किया गया। WHO के मुताबिक 0 से 50 के बीच का AQI सुरक्षित माना गया है। इस हिसाब से एवरेज AQI 25 होना चाहिए। यानी इस समय दिल्ली की हवा WHO की तय सीमा से 20 गुना ज्यादा प्रदूषित है। इसलिए दिल्ली में कारों के लिए ऑड-ईवन का फॉर्म्युला लागू होने जा रहा है। दिल्ली-एनसीआर की हवा में लगातार जहरीले प्रदूषण की स्थिति के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है। इससे पहले सरकारी स्कूलों एवं निर्माण कार्य पर रोक लगाई जा चुकी है। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने 13 से 20 नवंबर तक गाड़ियों के लिए ऑड-ईवन सिस्टम लागू करने का ऐलान किया है। सोमवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में प्रदूषण को काबू में लाने के लिए मीटिंग हुई थी।

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया है कि दिल्ली में ऑड-ईवन का फॉर्म्युला अभी लागू नहीं किया गया है, उसे अगले स्प्ताह से लागू किया जाएगा। यानी 13 नवंबर से शुरू होने वाले सप्ताह में दिल्ली में ऑड-ईवन फॉर्म्युले से गाड़ियां चलेंगी। इस फॉर्म्युले के तहत जिन गाड़ियों के नंबर का आखिरी अंक 0, 2, 4, 6 और 8 हैं, वो ईवन डे को चलेंगी जबकि आखिर में 1, 3, 5, और 7 नंबर वाली गाड़ियां ऑड डे में चलेंगी। यानी 13, 15, 17 और 19 नवंबर को दिल्ली में वही गाड़ियां चलेंगी जिनके नंबर का आखिरी अंक 1, 3, 5 और 7 है। जिन गाड़ियों के नंबर के आखिर में 0, 2, 4, 6 या 8 में से कोई नंबर है, वो 14, 16, 18 और 20 नवंबर को चलेंगी।

इसमें दीपावली के अगले दिन से एक हफ्ते के लिए ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू करने का फैसला लिया गया। प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली सरकार गैर जरूरी ​​​​​​कंस्ट्रक्शन, BS-3 कैटेगरी वाले पेट्रोल और BS-4 कैटेगरी वाले डीजल वाहनों पर पहले ही रोक लगा चुकी है। वहीं 5वीं तक के स्कूलों को 10 नवंबर तक बंद करने का आदेश दिया गया था। बढ़ते प्रदूषण को लेकर दिल्ली में GRAP का चौथा स्टेज लागू कर दिया गया है। इसके तहत कॉमर्शियल गाड़ियों की एंट्री पर रोक लग गई है। सब्जी, फल, दवा जैसी जरूरी सामान की आपूर्ति करने वाले, CNG और इलेक्ट्रिक ट्रकों को छोड़कर बाकी ट्रकों की आवाजाही को प्रतिबंधित कर दिया गया है।

कब लगाया जाता GRAP-IV

बता दें कि किसी जगह पर GRAP-IV तब लगाया जाता है, जब वहां का AQI लास्ट स्टेज यानी 450-500 के बीच पहुंच जाता है। दिल्ली में GRAP-IV लागू होने के साथ ही GRAP-I, II और III के नियम भी लागू रहेंगे। इनके तहत गैर-जूरी कंस्ट्रक्शन वर्क, BS-3 कैटेगरी वाले पेट्रोल और BS-4 कैटेगरी वाले डीजल चार पहिया वाहनों पर बैन लगाया जाता है।

दिल्ली दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर बना

दिल्ली दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर बन गया है। स्विस ग्रुप IQAir के वर्ल्ड एयर क्वालिटी इंडेक्स में दुनिया के 10 सबसे प्रदूषित शहरों में भारत के तीन शहर शामिल हैं। इनमें दिल्ली टॉप पर है, जबकि कोलकाता पांचवें और मुंबई छठे नंबर पर है। पाकिस्तान का लाहौर शहर दूसरे नंबर पर है।

दमकल की गाड़ियां पेड़ों पर कर रही पानी का छिड़काव

इधर, प्रदूषण को कंट्रोल में करने के लिए फायर डिपार्टमेंट की 12 गाड़ियों को सड़क किनारे पेड़ों पर पानी का छिड़काव करने के लिए लगाया गया है। सुबह से लेकर शाम तक दमकल कर्मी ज्यादा प्रदूषण वाले इलाके में पानी का छिड़काव कर रहे हैं। इससे पहले जल बोर्ड और एमसीडी के टैंकर भी जानलेवा प्रदूषण को कम करने के काम में पहले से लगे हुए थे।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments