29 C
New Delhi
Sunday, April 14, 2024
होमखेलमानसिक मजबूतीके मामले में विराट जैसे दुनिया में हुए कुछ ही खिलाड़ी:...

मानसिक मजबूतीके मामले में विराट जैसे दुनिया में हुए कुछ ही खिलाड़ी: विव रिचर्ड्स 

ICC के लिए लिखे लेख में की तारीफ, इस खेल के लिए बताया उन्हें एक उपहार

नई दिल्ली।

वनडे क्रिकेट के अपने समय के  विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक सर विवियन रिचर्ड्स ने भारतीय पूर्व कप्तान और वर्ल्ड कप 2023 में बल्ले से आग उगल रहे विराट कोहली की जमकर तारीफ की है। दिग्गज बल्लेबाज ने ICC के लिए लिखे कालम में कहा कि मैं जारी विश्व कप का पूरा लुत्फ उठा रहा हूं और मैं अभी तक हुए कुछ प्रदर्शन से बहुत ही ज्यादा प्रभावित हूं। रिचर्ड्स ने भारतीय पूर्व कप्तान विराट कोहली के व्यक्तित्व और उनकी बल्लेबाजी के कई पहलुओं को लेकर काफी कुछ कहा है। महान रिचर्ड्स ने कहा कि कुछ ही खिलाड़ी मानसिक मजबूती के मामले में कोहली की तरह हुए हैं। अभी भारतीय टीम में उन जैसा कोई नहीं है।   

उन्होंने अपने लेख में कहा कि बतौर बल्लेबाज मेगा टूर्नामेंट को देखना बहुत ही शानदार रहा है और मुझे भरोसा है कि समूची दुनिया के फैंस इससे बेहतर कुछ नहीं देख सकते थे। रिचर्ड्स बोले कि कुछ पिच स्कोरिंग के लिए बहुत ही शानदार रही हैं और इस दौरान बहुत ही उच्च स्तरीय प्रदर्शन देखने को मिले हैं। एडेन मार्करम, ग्लेन मैक्सवेल और क्विंटन डिकॉक के बल्ले से रिकॉर्डतोड़ सेंचुरी देखने को मिली हैं। वहीं युवा रवींद्र रचिन असाधारण दिखता है।

विराट जैसा कोई नहीं

रिचर्ड्स ने कहा कि  भारतीय टीम के सभी खिलाड़ी प्रतिभाशाली दिखते हैं, लेकिन विराट कोहली इनमें सबसे ऊपर हैं। मैं विराट का बड़ा प्रशंसक हूं और पिछले काफी लंबे समय से उसकी बैटिंग देख रहा हूं। विराट ने लगातार अपने प्रदर्शन से दिखाया है कि क्यों उन्हें सचिन तेंदुलकर की तरह सर्वकालिक सबसे महान बल्लेबाजों में शुमार किया जा रहा है। वर्ल्ड कप 2023 से पहले विराट बहुत ही मुश्किल समय से गुजरे थे और कुछ लोग तो उन्हें टीम से हटाने की बात कह रहे थे। 

विराट का यह रूप देखना शानदार

रिचर्ड्स ने कहा कि कोहली को समर्थन के लिए स्टॉफ और उस हर शख्स को श्रेय दिया जाना चाहिए, जिन्होंने इस दिग्गज बल्लेबाज का समर्थन किया। उनकी फॉर्म को लेकर काफी कुछ कहा गया था, लेकिन वह फिर से अपनी फॉर्म के चरम पर हैं। महान दिग्गज ने कहा कि यह देखना बहुत ही शानदार है कि एक क्रिकेटर इतने बुरे दौर से गुजरा और फिर वापसी करने के बाद इतना शानदार खेल रहा है। कहावत है कि योग्यता स्थायी होती है और फॉर्म अस्थायी और विराट ने निश्चित तौर पर ऐसा साबित किया है। मैं उनके लिए खुश हूं, वह बहुत ध्यानकेंद्रित दिखते हैं और इस खेल के लिए वह एक उपहार हैं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments