नई दिल्ली।

राजेन्द्र चिंतन समिति द्वारा भारत के प्रथम राष्ट्रपति डा.राजेन्द्र प्रसाद की 139 वी जंयती पर आयोजित समारोह में दिल्ली विधान सभा के पूर्व अध्यक्ष डॉ. योगानंद शास्त्री ने पीआर गुरु के संस्थापक मनोज कुमार शर्मा को शॉल और राजेंद्र बाबू का प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया। डॉ. योगानंद शास्त्री ने मनोज शर्मा को सम्मानित करते हुए कहा, ” मनोज ने अपने व्यक्तित्व की छाप समाज पर छोड़ी है और वे डॉ. राजेंद्र प्रसाद की तरह ही अपने जीवन का एक लक्ष्य निर्धारित कर नैतिकता के उच्च मापदंड स्थापित कर रहे हैं।”

मनोज कुमार शर्मा ने सम्मान प्राप्त करते हुए उनका धन्यवाद करते हुए कहा ” डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने सादगी और नैतिकता के उच्च मापदंड स्थापित किये। आज हम उनके दिखाये गये रास्ते पर चलकर उन्हे सच्ची श्रद्धांजली अर्पित कर सकते हैं। और उनकी जयंती पर मैं यह सम्मान पाकर बहुत धन्य हो गया हूं।” जबकि चिंतन समिति के उपाध्यक्ष विजयशंकर चतुर्वेदी और संयोजक राम कृष्ण शर्मा ने भी मनोज शर्मा द्वारा समाज के हित में किए जा रहे कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा, ” मनोज इस सम्मान के पूरे हकदार हैं।”

इस समारोह में मालवीय नगर विधायक व दिल्ली जलबोर्ड के वाइस चेयरमैन श्री सोमनाथ भारती, चिंतन समिति के उपाध्यक्ष श्री विजयशंकर चतुर्वेदी , संयोजक श्री राम कृष्ण शर्मा ने भी मंगलदीप प्रज्जवलित कर राजेन्द्र बाबू को याद करते हुए उनके प्रति सम्मान व्यक्त किया था। जबकि सम्मानित होने वाले व्यक्तियों में मनोज शर्मा के अलावा समाजसेवी राहुल शर्मा और वरिष्ठ पत्रकार सुनील नेगी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *