दिल्ली विधानसभा चुनाव: सस्पेंस खत्म, आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन की कोई गुंजाइश नहीं: कांग्रेस

दिल्ली विधानसभा चुनाव: सस्पेंस खत्म, आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन की कोई गुंजाइश नहीं: कांग्रेस

आम आदमी पार्टी की ओर से भी चुका है बयान

दिल्ली विधानसभा चुनाव
दिल्ली विधानसभा चुनाव

नई दिल्ली।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने दिल्ली विधानसभा चुनाव-:

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली और हरियाणा के दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) के साथ गठबंधन की कोई गुंजाइश नहीं है। हालांकि महाराष्ट्र एवं झारखंड के विधानसभा चुनावों में ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) बरकरार रहेगा। रमेश ने यह भी कहा कि जिन राज्यों में कांग्रेस एवं सहयोगी दलों के नेता चाहेंगे वहां यह गठबंधन बरकरार रहेगा।-(दिल्ली विधानसभा चुनाव)

कांग्रेस और आम आदमी पार्टी दोनों ‘इंडिया’गठबंधन के घटक हैं। लोकसभा चुनाव में दोनों दलों ने दिल्ली एवं हरियाणा में मिलकर चुनाव लड़ा था, लेकिन पंजाब में दोनों अलग अलग मैदान में उतरे थे। महाराष्ट्र, झारखंड, हरियाणा में इसी साल अक्टूबर-नवंबर में विधानसभा चुनाव होने हैं। दिल्ली में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं।

यह पूछे जाने पर कि क्या आगामी विधानसभा चुनावों में भी ‘इंडिया’गठबंधन बरकरार रहेगा। रमेश ने कहा, ‘‘यह झारखंड के विधानसभा चुनाव के लिए बरकरार रहेगा, महाराष्ट् के विधानसभा चुनाव के लिए बरकरार रहेगा। पंजाब में ‘इंडिया जनबंधन’नहीं है। हरियाणा में (लोकसभा चुनाव में) एक सीट आम आदमी पार्टी को दी गई थी, मैं नहीं समझता कि वहां (विधानसभा चुनाव में) ‘इंडिया जनबंधन’ बरकरार रहेगा।’’-(दिल्ली विधानसभा चुनाव)

उनका कहना था कि दिल्ली में तो आम आदमी पार्टी की ओर से बयान आ गया है कि विधानसभा चुनाव के लिए ‘इंडिया जनबंधन’नहीं होगा। रमेश ने कहा, ‘‘मैंने पश्चिम बंगाल के संदर्भ में कहा था कि ‘इंडिया जनबंधन’ लोकसभा चुनाव के लिए है। जिन जिन राज्यों में हमारे नेता और दूसरी पार्टियों के नेता चाहते हैं कि गठबंधन हो, वहां गठबंधन रहेगा।’’उन्होंने यह भी कहा कि महाराष्ट्र में शिवसेना (यूबीटी) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एसपर) के साथ गठबंधन है तथा झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के साथ गठबंधन है।-(दिल्ली विधानसभा चुनाव)

इसे भी पड़े-:

खिलाड़ी पीवी सिंधु से वर्चुअल मुलाकात भी की। साथ ही, उन्होंने पहली बार ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को जीत का मंत्र दिया।
पॉलिटिक्स