दिल्ली लोकसभा चुनाव 2024: 5 साल डॉ. उदित राज बनाम 5 साल हंसराज हंस के मुद्दे पर होगा उत्तर पश्चिम दिल्ली का चुनाव

दिल्ली लोकसभा चुनाव 2024: 5 साल डॉ. उदित राज बनाम 5 साल हंसराज हंस के मुद्दे पर होगा उत्तर पश्चिम दिल्ली का चुनाव

काम किया है – काम करेगें

नई दिल्ली।

डॉ. उदित राज, प्रत्याशी उत्तर पश्चिम दिल्ली ने सोमवार को प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि 2014-2019 तक उत्तर पश्चिम दिल्ली के सांसद के रूप में सेवा करते हुए क्षेत्र का चहुंमुखी विकास कराने का प्रयास किया। क्षेत्र के विकास के लिए बहुत सी बड़ी-बड़ी योजनाएँ भी मंज़ूर कराया लेकिन उसके बाद भाजपा से जो सांसद यहां से जीते उन्होंने क्षेत्र की हालत ख़राब कर दी। वे मंज़ूर करायी गई बहुत सी योजनाओं को शुरू भी नहीं करा पाये। यहां मैं उनको भी ज़्यादा ज़िम्मेदार नहीं मानता क्योंकि वोट तो मोदी के नाम पर माँगा गया था और यहाँ से भाजपा प्रत्याशी फिर से मोदी के नाम पर वोट मांग रहे हैं। यदि ये जीते तो फिर से उसी गलती की पुनरावृत्ति होगी। मैं इंडिया गठबंधन का उम्मीदवार हूँ और अपने काम के आधार पर वोट मांग रहा हूँ। केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर न्याय पत्र में लिखी गारंटी तो पूरी होगी ही, उत्तर पश्चिम दिल्ली में नीची लिखे कार्य वरीयता के आधार पर कराये जाएँगे।

उत्तर पश्चिम दिल्ली संसदीय क्षेत्र का घोषणा पत्र

  1. 3 रेलवे ओवर ब्रिज – घेवरा, किराड़ी और नरेला 2018 में मंजूर कराया था, लेकिन काम नहीं शुरू हो पाया। उसको पूरा कराऐंगे।
  2. नांगलोई को जोड़ने वाले अंडरब्रिज को पूरा कराऐंगे।
  3. पीरागढ़ी चौक पर अंडर पास को मंजूर कराऐंगे।
  4. जो मेट्रो प्रोजेक्ट नरेला तक मंजूर कराया था प्रगति अभी तक नहीं हो पायी, उसे पूरा कराया जायेगा।
  5. जहां झुग्गी वहीं मकान – डीडीए की योजना के तहत ग़रीब एवं स्लम में बसे लोगों को किफ़ायती दर पर फ्लैट बनाकर देना था, जो असफल हुई। यह कार्य वरीयता से किया जाएगा।
  6. भलस्वा झील पर सौंदर्यीकरण कराकर पर्यटन के लिए तैयार किया जाएगा।
  7. भलस्वा लैंडफिल को पूरी तरह खत्म कराऐंगे।
  8. उत्तर पश्चिम दिल्ली संसदीय क्षेत्र में दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेज सिर्फ़ नरेला और बवाना में हैं। लोक सभा क्षेत्र में और कॉलेज बनाये जायेंगे एवं अदिति कॉलेज की नई बिल्डिंग बनवाएंगे।
  9. नार्थ वेस्ट दिल्ली में कोई बड़ा हॉस्पिटल नहीं है। यहाँ एम्स स्तर का हॉस्पिटल बनवाया जाएगा।
  10. मेट्रो रेल परियोजना के अन्तर्गत रिठाला लाईन को नरेला से जोड़ा जाएगा और मुंडका से बवाना तक जोड़ा जाएगा।
  11. 20 सूत्रीय कार्यक्रम के तहत जो प्लॉट्स ग़रीबों और दलितों को आबंटित किए गए थे, उनका भूमिधरी अधिकार दिलाया जायेगा।
  12. जौंती गाँव में इनडोर स्टेडियम बनवाऐंगे।
  13. मुण्डका- घेवरा मोड़ पर डिग्री कॉलेज का निर्माण कराऐंगे।
  14. बवाना में महिला डिग्री कॉलेज की बिल्डिंग का पुनर्निर्माण कराऐंगे।
  15. बवाना विधानसभा के औचंदी बॉर्डर पर पॉवर ग्रिड कार्पोरेशन द्वारा ग्रीन बेल्ट में कमर्शियल प्रोजेक्ट को मंजूरी कैसे मिली। कांग्रेस की सरकार केंद्र में बनने पर इसकी न्यायिक जाँच करायी जायेगी और किसानों को हाई टेंशन लाइन के कॉरिडोर व आरओडब्ल्यू (राइट ऑफ वे) व खंभों के बीच के एरिया का मुआवजा कर्नाटक सरकार की तर्ज पर मार्केट रेट पर मिलेगा।
  16. टीकरी खामपुर मंडी – टीकरी खामपुर गाँव में 71 एकड़ जमीन पर मंडी बनने के योजना 1998 में बनायी गई थी लेकिन आज तक इसका कार्य नहीं शुरू हो पाया।
  17. हैदरपुर बादली मोड़ मेट्रो स्टेशन की सीढ़ियों को आउटर रिंग रोड से कनेक्ट कराया जायेगा।
  18. किराड़ी में जल भराव की समस्या ख़त्म कराएगी।
  19. 55 एकड़ लैंड जो डीडीए से एमसीडी को दिलाया था उस पर अस्पताल, शिक्षण संस्थान और सार्वजनिक सुविधायें मुहैया करायी जायेंगी।
  20. उपरोक्त के अलावा क्षेत्र की मांग पर अन्य कार्य पूरे कराए जायंगे l
पॉलिटिक्स