लोकसभा चुनाव: दिल्ली में ‘आप’ और कांग्रेस के बीच संयुक्त प्रचार पर सहमति, एक-एक पर्यवेक्षक की अब रहेगी नियुक्ति

लोकसभा चुनाव: दिल्ली में ‘आप’ और कांग्रेस के बीच संयुक्त प्रचार पर सहमति, एक-एक पर्यवेक्षक की अब रहेगी नियुक्ति

नई दिल्ली।

दिल्ली में संयुक्त प्रचार और रणनीति के लिए कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) एक-एक पर्यवेक्षक नियुक्त करेंगे। यही पर्यवेक्षक संबंधित लोकसभा क्षेत्र के लिए कार्यकर्ताओं के साथ तालमेल से लेकर रोड शो व सार्वजनिक सभा जैसे कार्यक्रम तय करेंगे। दिल्ली में 25 मई को मतदान होना है।

दिल्ली कांग्रेस कम्यूनिकेशन विभाग के चेयरमैन अनिल भारद्वाज ने बताया कि सातों सीटों पर आम आदमी पार्टी से समन्वय स्थापित करने का काम अंतिम चरण में है। दोनों दल एक लोकसभा सीट पर एक-एक पर्यवेक्षक नियुक्त करेंगे। कांग्रेस के सभी जिला अध्यक्ष आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्षों के साथ तालमेल स्थापित करेंगे। ताकि गठबंधन के समझौते के तहत दोनों पार्टियों के लोकसभा उम्मीदवारों के लिए मिलकर प्रचार करने में किसी प्रकार का भ्रम नहीं रहे।

रोड शो में भी मौजूद रहेंगे दोनों पार्टियों के नेता

गठबंधन के प्रत्याशियों के नामांकन जुलूसों में दोनों पार्टियों के नेता मौजूद रहेंगे। उत्तर पश्चिमी दिल्ली सीट से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. उदित राज ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल किया है। इस दौरान कांग्रेस नेताओं के साथ-साथ ‘आप’ नेता गोपाल राय भी मौजूद रहे। चांदनी चौक से कांग्रेस प्रत्याशी जय प्रकाश अग्रवाल 4 मई को और कन्हैया कुमार 6 मई को नामांकन दाखिल करेंगे।

पॉलिटिक्स