दिल्ली से सुबह चले तो शाम तक कर सकेंगे वैष्णों देवी के दर्शन, इस एक्सप्रेस-वे से 6 घंटे में पूरा होगा सफर

दिल्ली से सुबह चले तो शाम तक कर सकेंगे वैष्णों देवी के दर्शन, इस एक्सप्रेस-वे से 6 घंटे में पूरा होगा सफर

नई दिल्ली।

दिल्‍ली-एनसीआर सहित पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के कई जिलों के लोगों को जल्‍द तोहफा मिलने वाला है। इन शहरों से वैष्‍णों देवी और अमृतसर जाने वालों के लिए रास्‍ता आसान हो जाएगा। दिल्‍ली से सुबह चले तो शाम तक आप माता रानी दर्शन भी कर लेंगे। यह सफर दिल्‍ली-अमृतसर-कटरा एक्‍सप्रेसवे के तैयार होने के बाद बहुत आसान हो जाएगा। इस एक्‍सप्रेसवे से न सिर्फ दोनों शहरों की दूरी कम हो जाएगी, बल्कि सफर का समय भी आधा रह जाएगा।

दिल्‍ली-कटरा एक्‍सप्रेस-वे की कुल दूरी करीब 669 किलोमीटर है, जिसे तय करने में महज 6 घंटे का समय लगेगा। इसका मतलब हुआ कि अगर आप सुबह 6 बजे दिल्‍ली से चलते हैं तो 12 बजे तक कटरा पहुंच जाएंगे। आपने 2 घंटे आराम करके दोपहर 2 बजे भी चढ़ाई शुरू करेंगे तो शाम तक माता रानी के दर्शन भी हो जाएंगे। अगर उसी दिन वापस लौटते हैं तो अगली सुबह तक दिल्‍ली अपने घर पर होंगे। इस एक एक्‍सप्रेसवे के बनने से सफर कितना आसान हो जाएगा, इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि महज 24 घंटे में वैष्‍णों माता के दर्शन करके वापस दिल्‍ली पहुंच सकते हैं।

अमृतसर जाना भी आसान

दिल्‍ली-एनसीआर के लाखों लोग वीकेंड पर घूमने का प्‍लान बनाते हैं तो अमृतसर भी अब आपकी लिस्‍ट में शामिल हो जाएगा। इस एक्‍सप्रेसवे के जरिये दिल्‍ली से अमृतसर तक पहुंचने में सिर्फ 4 घंटे का समय लगेगा। इसका मतलब हुआ कि सुबह 6 बजे दिल्‍ली से निकले तो 10 बजे तक अमृतसर पहुंच जाएंगे। आप स्‍वर्ण मंदिर, जालियांवाला बाग और बाघा बॉर्डर की सैर कर शाम 6 बजे भी वापस लौटते हैं तो रात 10 बजे तक दिल्‍ली में अपने घर पर होंगे। इसका फायदा सिर्फ दिल्‍ली वालों को ही नहीं, बल्कि नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम, मेरठ सहित पश्चिमी यूपी के तमाम जिलों के लोगों को भी मिलेगा।

कितना काम पूरा

इन्‍फ्रा न्‍यूज इंडिया ने रविवार को टि्वटर पर एक्‍सप्रेस-वे के चौथे खंड की तस्‍वीरें पोस्‍ट करते हुए बताया कि हरियाणा में बन रहे पैकेज 4 का निर्माण कार्य बहुत तेजी से चल रहा है। अगले 2 से 3 महीने में यह पूरा हो जाएगा। अनुमान है कि 2024 के आखिर तक यह एक्‍सप्रेस-वे आम आदमी के लिए खोल दिया जाएगा। 8 लेन के इस एक्‍सप्रेसवे की कुल लागत करीब 40 हजार करोड़ रुपये बताई जाती है।

इन शहरों तक जाना होगा आसान

ऐसा नहीं है कि इस एक्‍सप्रेसवे से सिर्फ अमृतसर या कटरा का सफर किया जा सकेगा, बल्कि पटियाला, लुधियाना, जालंधर, गुरदासपुर, कपूरथला जैसे शहरों तक पहुंचना भी आसान हो जाएगा। इसके रास्‍ते में गोल्‍डन टेंपल, सुल्‍तानपुर लोधी गुरुद्वारा, गोविंदवाल साहिब गुरुद्वारा, खादुर साहिब गुरुद्वारा, तरन तारन के गुरुद्वारा दरबार साहिब जैसे प्रसिद्ध सिख धार्मिक स्‍थल भी पड़ेंगे।

व्यापार