दिल्ली यूनिवर्सिटी में थीसिस जमा करने में लेट हुए, तो हर दिन 1000 रुपये भरने पड़ेंगे

दिल्ली यूनिवर्सिटी में थीसिस जमा करने में लेट हुए, तो हर दिन 1000 रुपये भरने पड़ेंगे

नई दिल्ली।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के मेडिकल कॉलेज के एमएस, एमडीएस, डीएम और एमसीएच स्टूडेंट्स अगर थीसिस जमा करने में देरी करते हैं तो उन्हें हर दिन की एक हजार रुपए लेट फीस देनी होगी। यूनिवर्सिटी के एग्जामिनेशन ब्रांच की इस नई गाइडलाइंस पर स्टूडेंट्स ने ऐतराज जताया है। इसके अलावा थीसिस जमा करने की फीस भी 5 हजार रुपए से बढ़ा कर 15 हजार रुपए कर दी गई है। मेडिकल कॉलेजों के स्टूडेंट्स ने इस फैसले का विरोध करते हुए बढ़ी हुई फीस को वापस लेने की मांग की है।

दूसरी ओर, दिल्ली यूनिवर्सिटी का कहना है कि अगर देरी की वजह के पीछे कोई अहम कारण है तो लेट फीस नहीं ली जाएगी। डीयू की मेडिकल साइंस फैकल्टी ने पीएचडी थीसिस जमा करने की आखिरी तारीख बढ़ाकर 15 मार्च कर दी है। एमडी, एमएस, एमडीएस बैच 2021 के स्टूडेंट्स के हित में डेट को आगे बढ़ाया गया है।

शिक्षा