जेब में सिर्फ 41 रुपये… 5 स्‍टार होटल में 15 दिन रुक 6 लाख का बिल बना फरार हुई चालबाज महिला

जेब में सिर्फ 41 रुपये… 5 स्‍टार होटल में 15 दिन रुक 6 लाख का बिल बना फरार हुई चालबाज महिला

नई दिल्ली।

आईजीआई एयरपोर्ट के पास एयरोसिटी में स्थित लग्‍जरी होटल में एक महिला ठहरने के लिए आई। उसकी जेब में महज 41 रुपये थे। फिर भी वो यहां 15 दिन ठहरने में सफल रही। आंध्र प्रदेश की रहने वाली इस महिला ने इस दौरान वहां 6 लाख का बिल बना दिया। खास बात यह है कि वो चैकआउट के वक्‍त बेहद आसानी से होटल स्‍टाफ को मूर्ख बनाकर वहां से फरार होने में भी कामयाब रही। जबतक होटल के कर्मचारियों को कुछ समझ आता वो उनकी पहुंच से दूर होने में सफल हो गई। हालांकि दिल्‍ली पुलिस ने अब इस महिला को गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार दिल्‍ली पुलिस अब तक यह पता नहीं लगा सकी है कि महिला का होटल में रुकने का मकसद क्‍या था? वो किस लिए यहां आई थी? एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार अब दिल्ली पुलिस ने आंध्र प्रदेश पुलिस से संपर्क कर यह जानने के लिए लिखा है कि क्या वे उसका वास्तविक पता और उसके परिवार के सदस्यों के बारे में विवरण प्रदान कर सकते हैं।

बैंक में मिले महज 41 रुपये

अधिकारी ने कहा कि हमारे विशेषज्ञों द्वारा महिला से पूछताछ की गई और उसे काउंसलिंग दी गई लेकिन वह हमारे साथ सहयोग नहीं कर रही है। हमने उससे अपने बैंक खाते का विवरण दिखाने के लिए कहा, लेकिन वह ऐसा करने में विफल रही। जब पुलिस ने उसके पिछले खाते की जांच की तो उन्होंने पाया कि बैलेंस राशि केवल 41रुपये थी। पुलिस ने कहा कि महिला की पहचान झांसी रानी सैमुअल के रूप में की गई है, जो दिल्ली हवाई अड्डे के पास एयरोसिटी में स्थित पुलमैन होटल में 15 दिनों तक रुकी थी और कथित तौर पर लगभग 5,88,176 रुपये का बिल बनाने में सफल रही।

फर्जी UPI ट्रांजेक्शन दिखाकर बच निकली

अधिकारी ने कहा कि होटल के कर्मचारियों ने पुलिस को बताया कि उसने होटल की स्पा सुविधा में ईशा दवे नाम का एक फर्जी पहचान पत्र दिखाया था और 2,11,708 रुपये की सेवाओं का लाभ उठाया था। पुलिस ने कहा कि झांसी रानी सैमुअल ने होटल के कर्मचारियों को फोन पर दिखाया कि उसने ICICI बैंक यूपीआई ऐप से सारा भुगतान कर दिया है लेकिन बाद में जब मिलान किया गया तो पता चला कि ऐसी कोई पेमेंट हुई ही नहीं थी।

क्राइम