दिल्ली, बेंगलुरू नहीं, भारत का यह शहर बना ‘हाईटेक’, लगा AI बेस्ड सर्विलांस सिस्टम

दिल्ली, बेंगलुरू नहीं, भारत का यह शहर बना ‘हाईटेक’, लगा AI बेस्ड सर्विलांस सिस्टम

नई दिल्ली।

दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरू, हैदराबाद जैसे शहरों को अगर आप भारत का सबसे हाईटेक शहर मान रहे हैं, तो आप गलत हैं। गुजरात का अहमदाबाद इन शहरों से कहीं आगे निकल गया है। अहमदाबाद नगर निगम ने शहर में रियल टाइम निगरानी के लिए AI यानी आर्टिफिशिल इंटेलिजेंस बेस्ड सर्विलांस सिस्टम लगाया है। यही नहीं, शहर में मौजूद अवैध पार्किंग, स्टॉल, कचरे के ढ़ेर, आवारा जानवरों की निगरानी के लिए ड्रोन तैनात किए गए हैं।

सामने आ रही रिपोर्ट के मुताबिक अहमदाबाद नगर निगम ने यह AI बेस्ड सर्विलांस सिस्टम पल्दी एरिया में लगाया है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड यह सिस्टम घंटो के वीडियो फुटेज को रियल टाइम में जांच कर सकता है। इस हाईटेक सिस्टम को लगाने के लिए पिछले साल अगस्त 2023 में टेंडर जारी किया गया था। इसमें AI बेस्ड सिस्टम को लगाने, ऑपरेट करने के साथ-साथ देख-रेख की जिम्मेदारी शामिल थी।

कैसे काम करेगा AI बेस्ड सिस्टम?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड सिस्टम लगने से शहर में ट्रैफिक नियमों की अनदेखी करने पर रियल-टाइम में अलर्ट जारी करना, किसी भी अपराध को होने से पहले रोकना, अपराध होने के बाद उसकी जांच में मदद करना, पब्लिक सुरक्षा, ट्रैफिक मैनेजमेंट, क्राउड कंट्रोल, इमरजेंसी रिस्पॉन्स कोर्डिनेशन, रिमोट मॉनिटरिंग जैसे काम फटाफट किए जा सकते हैं।

वीडियो फुटेज से होगी ट्रेनिंग

AI सर्विलांस सिस्टम को फिलहाल पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इंस्टॉल किया गया है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सिस्टम को एक साल के वीडियो फुटेज दिखाकर ट्रेनिंग दी जाएगी, ताकि वो नियमों के उल्लंघन को डिटेक्ट करने में महारत हासिल कर सकेगा। हाउसिंग और अर्बन अफेयर्स मिनिस्ट्री द्वारा 2021 में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक अहमदाबाद में ट्रैफिक मैनेजमेंट के लिए पहले से ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड सिस्टम लगाया गया है। इस सिस्टम को गाड़ियों की नंबर प्लेट के रंगो के हिसाब से पहचान के लिए ट्रेनिंग दी गई है। 2021 में शहर के 92 चौराहों को जीरो टॉलरेंस घोषित किया गया था, जिसकी संख्या 2022 में बढ़कर 130 हो गई।

टेक्नोलॉजी