मैरिटल रेप पर आधारित फिल्म “लकीरें”  का राजधानी में किया प्रमोशन, 3 नवंबर को होगी रिलीज़

मैरिटल रेप पर आधारित फिल्म “लकीरें”  का राजधानी में किया प्रमोशन, 3 नवंबर को होगी रिलीज़

नई दिल्ली।

मैरिटल रेप और घरेलू हिंसा जैसे सवेदनशील विषय पर आधारित फिल्म “लकीरें” ट्रेलर लांच के बाद से ही चर्चा में हैं राजधानी दिल्ली में अभिनेता आशुतोष राणा, गौरव चोपड़ा ,बिदिता बाग, निर्देशक दुर्गेश पाठक ने फिल्म का प्रमोशन किया। जनकपुरी स्थित आयआयटीएम कालेज  छात्रों के बीच पहुंचकर फिल्म के कलाकारों ने मैरिटल रेप और घरेलू हिंसा जैसे सवेदनशील विषय पर छात्रों से चर्चा भी की।  

फ़िल्म लकीरें समाज में महिलाओं के अधिकार, स्त्री पुरुष समानता और मैरिटल रेप पर बनने वाले कानून को लेकर महत्वपूर्ण विषय को प्रस्तुत करती है।  इमेज एंडक्रिएशन, बीटीसी मल्टीमीडिया प्रोडक्शन, ब्लैक पर्ल मूवीज के बैनर तले निर्मित और रिलायंस एंटरटेनमेंट द्वारा वितरित की जाएगी |  फिल्म लकीरें  में  काव्या ( टिया बाजपेयी द्वारा अभिनीत) वैवाहिक बलात्कार जैसे अपराध  के लिए अपने पति विवेक दामोदर अग्निहोत्री (गौरव चोपड़ा द्वारा अभिनीत) के खिलाफ कोर्ट में न्याय की अपील कर रही हैं। न्याय के लिए काव्या की लड़ाई फिल्म का केंद्र बिंदु है, जो वैवाहिक बलात्कार के पीड़ितों के सामने आने वाली कानूनी और सामाजिक चुनौतियों पर रोशनी डालती है। साथ ही जरूरत के अनुसार सहमति, घरेलू हिंसा और सामाजिक दृष्टिकोण और कानूनों में बदलाव की  मांग भी करती है| काव्या के साथ साथ  नसीमा और उसकी सहेली अनीता के जीवन में आ रही वैवाहिक समस्याओं को दिखा रहा है जो वैवाहिक बलात्कार, इसी तरह के अत्याचार से संबंधित है। फिल्म में अभिनेत्री बिदिता बाग अधिवक्ता गीता विश्वास का किरदार निभा रही हैं | अदालत में अभिनेता आशुतोष राणा दुधारी सिंह का किरदार निभा रहे हैं। अन्याय के खिलाफ गीता की लड़ाई समाज के नैतिक मूल्यों और वैवाहिक बलात्कार जैसे गंभीर विषयों पर सवाल उठाती है।

अभिनेता आशुतोष राणा ने कहा कि हमारे देश में मैरिटल रेप और घरेलू हिंसा पर खुलकर चर्चा नहीं होती फिल्म लकीरें इस सवेदनशील मुद्दे को एक मनोरंजक कोर्टरूम ड्रामा के साथ प्रस्तुत करती हैं। इस अवसर पर अभिनेता गौरव चोपड़ा ने कहा कि “मेरा किरदार अहंकार और पुरुष प्रधान सोच वाला हैं । यह बिलकुल मेरे स्वभाव से विपरीत किस्म का व्यक्ति हैं इसलिए पर्दे पर निभाना काफी चुनौतीपूर्ण रहा। अभिनेत्री बिदिता बाग ने बताया “मैं एक महिला वकील के किरदार में हूं जो एक मैरिटल रेप की महिला को न्याय दिलाने की लड़ाई लड़ रही है। यह बहुत ही संवेदनशील विषय पर आधारित हैं हम चाहते हैं कि दर्शक इस फिल्म को देखें और समाज में कहीं भी ऐसी कोई घटना हो रही है तो उसका विरोध करें। फिल्म इस शुक्रवार 3 नवंबर, 2023 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी जिसका डिस्ट्रिब्यूशन रिलायंस एंटरटेनमेंट द्वारा किया जा रहा है।

मनोरंजन