जबलपुर को डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में विकसित किया जाना जबलपुरवासियों का हक: तरुण भनोत

जबलपुर को डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में विकसित किया जाना जबलपुरवासियों का हक: तरुण भनोत

संस्कारधानी को दिलाएंगे रक्षा राजधानी की पहचान

जबलपुर, 01st नवंबर :

पश्चिम क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी तरुण भनोत ने जनसंपर्क के दौरान लोगों से हुए संवाद में बताया कि जबलपुर को डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में विकसित किया जाना जबलपुरवासियों का हक और अधिकार है।

श्री भनोत ने बताया कि जबलपुर रक्षा मंत्रालय से जुड़ी पांच बड़ी उत्पादन इकाइयों के अलावा भारतीय सेना से जुड़े महत्वपूर्ण मुख्यालयों के कारण देश में ही नही बल्कि अंतराष्ट्रीय स्तर पर भी एक अलग पहचान रखता है। केंद्र की भाजपा सरकार के द्वारा रक्षा निर्माणियों की व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के नाम पर पूरी व्यवस्था को बदलते हुए जबलपुर के पांच सहित देश भर की 47 आयुध रक्षा निर्माणियों का निजीकरण कर दिया गया और वर्तमान में इन रक्षा निर्माणियों में नई भर्तियां शून्य के बराबर हैं। भाजपा सरकार के इस निर्णय के बाद इन निर्माणियों में नौकरी की तैयारी कर रहे युवाओं के भविष्य पर एक बड़ा प्रश्न चिन्ह खड़ा कर दिया गया है।

उन्होंने लोगों को बताया कि वर्तमान में स्थानीय रक्षा निमार्णी सहायक उपकरणों और एंसिलरीज के लिए दूसरे राज्यों में लगे स्टार्ट्स – अप और कंपनियों पर निर्भर है, जबकि जबलपुर में सहायक उपकरणों और एंसिलरी मैन्युफैक्चरिंग की आपार संभावनाएं है। कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने पर निश्चित रूप से सरकार के स्तर पर ऐसे स्टार्ट- अप्स और डिफेंस सेक्टर्स में कार्य कर रहे निवेशकों और कंपनियों को बेहतर औद्योगिक वातावरण और सुरक्षा देने का काम किया जायेगा।

देश-विदेश पॉलिटिक्स