मध्यप्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह विफल, नहीं रोक पा रही मासूमो के प्रति हैवानियत

मध्यप्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह विफल, नहीं रोक पा रही मासूमो के प्रति हैवानियत

CREATOR: gd-jpeg v1.0 (using IJG JPEG v80), quality = 90

9 वर्षीय आदिवासी बच्ची को दो दिनों तक बंधक बनाकर ऑटो ड्राइवर ने की हैवानियत

मध्यप्रदेश।

मध्य प्रदेश में मासूमों पर अत्याचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. हाल ही में उज्जैन में एक लड़की से रेप की दिल दहलाने वाली घटना हुई और अब खंडवा के ओंकारेश्वर में भी आदिवासी लड़की के साथ हिंसा का मामला सामने आया है. आदिवासी बच्ची से हैवानियत करने वाला आरोपी एक ऑटो ड्राइवर था जिसने मासूम बच्ची को दो दिनों तक बंधक बनाकर रखा और उसे अपनी हवस का शिकार बनाता रहा. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

9 साल की बच्ची को बंधक बनाकर हैवानियत

खंडवा जिले के ओंकारेश्वर में मासूम बच्ची से दुष्कर्म की सनसनीखेज वारदात हुई. दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पता चला कि आरोपी कार चालक जावेद मंसूरी ने मासूम बच्ची को दो दिन तक बंधक बनाकर रखा और उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया. घटना तब सामने आई जब लोगों को पता चला कि लड़की रो रही है। उन्होंने उससे पूछा कि वह क्यों रो रही है और लड़की ने लोगों को बताया कि उसके साथ क्या हुआ है। लड़की द्वारा बलात्कार के बारे में बताने के बाद लोगों ने तुरंत पुलिस को बुलाया, जो बाद में मौके पर पहुंची और बच्ची को अस्पताल पहुंचाया। पुलिस ने आरोपी ऑटो ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट और एससी–एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। वहीं घटना की जानकारी लगते ही लोग भी थाने पहुंच गए और घेराव कर नारेबाजी की।

क्राइम