पेनकिलर दवाओं पर दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, अब आसानी से नहीं मिलेगी ये दवा

पेनकिलर दवाओं पर दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, अब आसानी से नहीं मिलेगी ये दवा

नई दिल्ली।

दवाओं की बिक्री को लेकर सरकार नियम कानून बनाती रही है। कई बार तरह तरह की दवाओं को बैन भी किया गया है लेकिन अब सरकार ने फैसला किया है कि कोई भी व्यक्ति ऐसे ही जा कर मेडिकल स्टोर से पेनकिलर नहीं खरीद सकता। दिल्ली सरकार के नए नियम के मुताबिक, कोई भी केमिस्ट बिना प्रिस्क्रिप्शन के अब पेनकिलर नहीं दे सकता। अगर कोई ऐसा करता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

क्या है आदेश?
दिल्ली सरकार की ओर से डिपार्टमेंट ऑफ ड्रग कंट्रोल ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि दिल्ली के सभी केमिस्ट अपने यहां पेनकिलर्स दवाओं का पूरा रिकॉर्ड रखेंगे। इसके साथ ही कोई भी केमिस्ट बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के पेन किलर किसी भी व्यक्ति को नहीं देगा। दिल्ली सरकार ने डेंगू और चिकनगुनिया जैसी वेक्टर जनित बीमारियों की घटनाओं के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए ये फैसला लिया है।

पेनकिलर की वजह से कौन सी बीमारियां होती हैं?
आपको बता दें, अगर आप थोड़े बहुत शारीरिक दर्द में भी पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं, तो अब सावधान हो जाइए, क्योंकि पेनकिलर आपके शरीर के उस हल्के से दर्द को तो ठीक कर देगा, लेकिन आप के भीतर एक ऐसी गंभीर बीमारी को छोड़ जाएगा जिससे शायद आप की मौत भी हो सकती है। रिपोर्ट्स के अनुसार अगर आप ज्यादा पेनकिलर का सेवन करते हैं तो यह आपके शरीर में कई गंभीर असर छोड़ती है। यह आपकी किडनी, लिवर और हार्ट को प्रभावित करने लगती है। वहीं अगर जरूरत से ज्यादा पेनकिलर आप ने ले ली तो आप हार्ट अटैक या स्ट्रोक का भी शिकार बन सकते हैं। इसलिए विशेषज्ञों की सलाह होती है कि कभी भी पेनकिलर खाने से पहले किसी डॉक्टर से जरूरी सलाह जरूर ले लें।

पेनकिलर के साइडइफेक्ट्स क्या होते हैं?
आपको बता दें पेनकिलर खाने के बाद आपको कई तरह के साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। इनमें लूज मोशन, कब्ज, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रॉब्लम, ब्लीडिंग या पेट में अल्सर जैसी समस्याएं शामिल हैं। इसके साथ ही नींद की कमी होना, सांस से जुड़ी समस्याएं, स्किन पर लाल चकत्ते होना और शरीर में खुजली के साथ जलन होना भी इसमें शामिल है।

देश-विदेश पॉलिटिक्स व्यापार स्वास्थ्य