कड़कड़डूमा कोर्ट का फैसला बरकरार, हत्या के आरोप में यूपी पुलिसकर्मियों की याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज

कड़कड़डूमा कोर्ट का फैसला बरकरार, हत्या के आरोप में यूपी पुलिसकर्मियों की याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज

नई दिल्ली।

दिल्ली हाईकोर्ट ने 2006 के हत्या के एक मामले में कड़कड़डूमा कोर्ट द्वारा यूपी पुलिसकर्मियों को दोषी ठहराए जाने के फैसले में सुनवाई करते हुए पुलिसकर्मियों की याचिका को खारिज कर दिया है। हाईकोर्ट ने सब इंस्पेक्टर हिंदवीर सिंह, महेश मिश्रा, सिपाही प्रदीप कुमार, पुष्पेंद्र कुमार, हरिपाल सिंह को 10 साल सजा सुनाने के वर्ष 2019 के कड़कड़डूमा कोर्ट द्वारा सुनाई गई सजा को बरकरार रखा है। पुलिसकर्मियों ने सजा के फैसले को ही हाईकोर्ट में चुनौती दी थी।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली शिफ्ट हुआ था मामला
बता दें कि साल 2006 में एक लूट के मामले में बुलंदशहर जिले के रहने वाले सोनू को हिरासत में लिया था, जिसके अगले दिन सोनू का शव नोएडा में मिला था। इसके बाद सोनू के पिता की शिकायत पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था और सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर यूपी की जिला अदालत से इस मामले को कड़कड़डूमा कोर्ट स्थानांतरित किया गया था

क्राइम