पवन ऊर्जा के क्षेत्र में भारत सरकार द्वारा राजस्थान प्रथम पुरस्कार से सम्मानित

पवन ऊर्जा के क्षेत्र में भारत सरकार द्वारा राजस्थान प्रथम पुरस्कार से सम्मानित

दिल्ली

भारत सरकार के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा राजस्थान को पवन ऊर्जा के क्षेत्र में अन्य राज्यों की अपेक्षा सर्वोत्कृष्ट कार्य किये जाने हेतु प्रथम पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। 15 जून ’’ग्लोबल विण्ड डे’’ के अवसर पर नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय, भारत सरकार के तत्वाधान में नई दिल्ली में आयोजित एक समारोह में यह पुरस्कार प्रदान किया गया।

राजस्थान सरकार की ओर से प्रमुख शासन सचिव, ऊर्जा श्री भास्कर ए.सावन्त को भारत सरकार के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के सचिव बी.एस.भल्ला द्वारा प्रदान किया गया।

राजस्थान के ऊर्जा मंत्री श्री भॅंवर सिंह भाटी द्वारा बधाई देते हुए अवगत कराया गया कि माननीय मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राजस्थान सरकार द्वारा जारी निवेषोन्मुखी अक्षय ऊर्जा नीतियों के कारण राजस्थान प्रदेश सौर ऊर्जा में तो अव्वल है ही साथ ही वर्ष 2022-23 में देश की सर्वाधिक पवन ऊर्जा परियोजनाएं स्थापित कर पवन ऊर्जा के क्षेत्र में भी देश में प्रथम स्थान बना लिया है। इस अवसर पर प्रमुख शासन सचिव भास्कर ए.सावन्त द्वारा अवगत कराया गया कि वर्ष 2022-23 में प्रदेश में 867 मेगावाट क्षमता की नई पवन ऊर्जा परियोजनाऐं स्थापित की गई जो कि अन्य राज्यों की अपेक्षा सर्वाधिक है। वर्ष 2022 में प्रदेश में 4337 मेगावाट पवन ऊर्जा क्षमता स्थापित की गयी थी जो कि मार्च 2023 तक बढ़कर 5204 मेगावाट हो गई।

देश-विदेश