पहले पिस्टल ओलंपिक चयन ट्रायल में मनु भाकर रहीं सबसे सफल निशानेबाज

राइफल में एलावेनिल वलारिन ने मारी बाजी

नई दिल्ली।

ओलंपियन और पूर्व राष्ट्रमंडल खेल, युवा ओलंपिक और यूनिवर्सियाड चैंपियन मनु भाकर यहां एमपी राज्य शूटिंग अकादमी (एमपीएसएसए) रेंज में ट्रायल के समापन दिवस पर पिस्टल ओएसटी टी4 मैच में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल जीतकर, पहले ओलंपिक चयन ट्रायल (ओएसटी) राइफल/पिस्टल में सबसे सफल शूटर बनकर उभरीं हैं। दो स्पर्धाओं के ट्रायल में उनकी यह चौथी जीत है। 25 मी. पिस्टल में भी उन्होंने यह उपलब्धि हासिल की है।

मनु ने रविवार को ओएसटी टी4 एयर पिस्टल फाइनल में 240.8 का स्कोर बनाया, जिसमें मौजूदा एशियाई खेलों की चैंपियन पलक 4.4 अंक से पीछे रहने के कारण दूसरे स्थान पर रहीं। रिदम सांगवान ने तीसरा स्थान हासिल किया। खेले गए अन्य फाइनल्स में मनु की साथी टोक्यो ओलंपियन एलावेनिल वलारिवन ने दिन की शुरुआत में ही एमपीएसएसए रेंज में धूम मचा दी और महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल ओएसटी टी4 में 254.3 के स्कोर के साथ जीत हासिल की, जो इस महीने बाकू में चीन की हान जियायु द्वारा बनाए गए 254.0 के वर्तमान विश्व रिकॉर्ड से 0.3 अधिक है। रमिता (253.3) और मेहुली घोष (230.3) दूसरे और तीसरे स्थान पर रहीं।

दिव्यांश सिंह पनवर ने पुरुषों की एयर राइफल ओएसटी टी4 को 253.3 के स्कोर के साथ जीता, जो उनके अपने मौजूदा विश्व रिकॉर्ड से सिर्फ 0.4 कम था। उपलब्ध अन्य पोडियम अंकों के लिए अर्जुन बाबूता (250.0) और रुद्राक्ष पाटिल (229.5) ने दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त किया ।

पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल ओएसटी टी4 फाइनल में, रविंदर सिंह 242.2 के स्कोर के साथ विजयी हुए। उनके बाद दूसरे स्थान पर वरुण तोमर (239.4) और तीसरे स्थान पर सरबजोत सिंह (218.9) रहे। इसी के साथ सभी 32 ट्रायल मैच संपन्न हुए, जो आठ व्यक्तिगत राइफल और पिस्टल ओलंपिक स्पर्धाओं में समान रूप से निर्धारित हैं। भोपाल से पहले दो ट्रायल नई दिल्ली के डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में हुए थे। भारत के राइफल और पिस्टल निशानेबाजों के लिए अगला असाइनमेंट इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट फेडरेशन (आईएसएसएफ) विश्व कप राइफल/पिस्टल होगा, जो 31 मई से 8 जून, 2024 तक म्यूनिख, जर्मनी में होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *